झाबुआ: राज्य आनन्द संस्थान के निर्देश पर 15 मई को मनाया जाएगा अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस

झाबुआ: राज्य आनन्द संस्थान के निर्देश पर 15 मई को मनाया जाएगा अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस


झाबुआ, 10 मई (हि.स.)। संयुक्त राष्ट्र के आव्हान पर सर साल 15 मई को अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य संयुक्त परिवारों के महत्व को लेकर विश्व समुदाय में जन जाग्रति पैदा करना है। इस विषय को द्रष्टिगत रखते हुए इस संबंध में राज्य आनन्द संस्थान अध्यात्म विभाग द्वारा जिले में 15 मई को अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाए जाने के लिए दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।

राज्य आनन्द संस्थान के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अखिलेश अर्गल द्वारा जिला कलेक्टर सोमेश मिश्रा को इस संबंध में एक पत्र जारी किया गया है, जिसमें 15 मई को अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस मनाए जाने के संबंध में दिशा निर्देश दिए गए हैं। जारी किए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार ही जिले में 15 मई को कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

संयुक्त राष्ट्र के आह्वान पर अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस हर साल 15 मई को मनाया जाता है इस अंतरराष्ट्रीय दिवस का उद्देश्य परिवार के महत्व को स्वीकार करना और दुनिया भर के लोगों में परिवारों और समुदाय को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने संबंधी है। यह वार्षिक उत्सव इस बात को दर्शाता है कि वैश्विक समुदाय परिवार को समाज की प्राथमिक इकाइयों के रूप में जोड़ता है यह दिन सभी देशों में परिवारों के सर्वोत्तम हित में एक शक्तिशाली जागृति के कारक के रूप में कार्य करता है।

अंतरराष्ट्रीय परिवार दिवस की थीम अधिकांशतः बच्चों की शिक्षा, गरीबी, पारिवारिक संतुलन और परिवार के परिप्रेक्ष्य में सामाजिक मुद्दों के इर्द-गिर्द घूमती है। इस वर्ष की थीम परिवारों में नवीनतम तकनीकी है परिवार समाज की प्राथमिक ईकाई है वर्तमान दौर में नित नई तकनीक सामाजिक जीवन को लगातार प्रभावित कर रहे हैं, ऐसे में परिवार भी इससे अछूता नहीं है। अतः नई तकनीक किस तरह परिवारों और समाज को एकसूत्र में बांधने में सहायक हो सकती है और परिवार इसका किस तरह लाभ उठा सकते हैं, इस संबंध में विचारों का संप्रेषण कर जन जाग्रति पैदा करना है।

हिन्दुस्थान समाचार/ डॉ. उमेशचन्द्र शर्मा

Share this story

Around The Web