सांसद अपराजिता ने राज्य सरकार पर किया हमला

सांसद अपराजिता ने राज्य सरकार पर किया हमला


भुवनेश्वर, 10 मई (हि.स.) पुरी के श्रीमंदिर परिक्रमा परियोजना पर हाई कोर्ट में एएसआई द्वारा दिए गए हलफनामे के बाद भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता तथा भुवनेश्वर से सांसद अपराजिता षडंगी ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट किया है कि महाप्रभु श्रीजगन्नाथ स्वयं को व श्रीमंदिर को स्वयं बचाने का प्रयास कर रहे हैं । एक निर्वाचित सरकार के गैरकानूनी कार्य से स्वयं को रक्षा करने के लिए महाप्रभु प्रयास कर रहे हैं ।

आर्कियोलॉजिकल सर्वे आफ इंडिया (एएसआई) ने हाई कोर्ट में अपने हलफनामे में कहा था कि इस परियोजना के लिए संस्थान से अनुमति नहीं ली गई है। इस परिक्रमा परियोजना से पुरातात्विक अवशेषों के नुकसान होने की आशंका है। सांसद अपराजिता ने कहा कि हलफनामे के बाद साफ हो गया है कि राज्य सरकार की गलती है ।

उन्होंने प्रश्न किया कि यदि इस ढांचा को गैरकानूनी घोषित कर दिया जाता है तो इसके निर्माण में लोगों के पैसे से खर्च हुए सैकड़ों करोड़ रुपये के बर्बादी के लिए कौन जिम्मेदार रहेगा । उल्लेखनीय है कि पुरी के श्रीजगन्नाथ मंदिर की परिक्रमा परियोजना को लेकर चल रहे विवाद के बीच भारतीय पुरातात्विक सर्वेक्षण (एएसआई) ने सोमवार को कटक हाई कोर्ट में अपना हलफनामा दिया था । इस हलफनामे में एएसआई ने स्पष्ट किया था कि इस परियोजना के लिए उसने किसी प्रकार की अनुमति नहीं दी है। एएसआई से किसी प्रकार एनओसी नहीं दी गई है । नेशनल मॉन्यूमेंट अथॉरिटी को जो पूर्ण डीपीआर रिपोर्ट दी गई है और वर्तमान में जिस डीपीआर पर काम हो रहा है, उनमें समानता नहीं है। इस निर्माण से पुरातात्विक अवशेषों के नष्ट होने की भी संभावना व्यक्त की गई थी। मामले की अगली सुनवाई 22 जून को होगी । 20 जून तक जवाब देने के लिए कहा गया है।

हिन्दुस्थान समाचार/मुकुंद

Share this story

Around The Web