शिमला में मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत 28 उद्यम स्थापित

शिमला में मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत 28 उद्यम स्थापित


शिमला, 10 मई (हि.स.)। उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने कहा है कि मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के तहत वित्त वर्ष 2022-23 में योजना के तहत जिला शिमला को 300 उद्यम स्थापित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है, जिसमें से अभी तक 28 उद्यम स्थापित किए जा चुके हैं।

मंगलवार को मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के अंतर्गत जिला स्तरीय समिति की पहली बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार योजना में इस वर्ष कुछ संशोधन किए गए है, जिसमें पुरुष अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के लाभार्थियों के लिए निवेश सब्सिडी 25 प्रतिशत से बढ़ाकर 30 प्रतिशत कर दी गई है। महिला लाभार्थियों व दिव्यांग आवेदकों के लिए निवेश सब्सिडी 30 प्रतिशत से बढ़ाकर 35 प्रतिशत कर दी गई है।

उन्हांेने कहा कि मशीनीकृत कृषि उपकरण, कम्बाईन और हार्बेसटर सहित स्वचालित छोटा माल वाहक जिसका उपयोग खेती के लिए किया जा रहा है। योजना में शामिल कर 10 लाख रुपये की लागत तक किया गया है। इसके अतिरिक्त योजना के अंतर्गत उन्नत डायरी विकास योजना को शामिल किया गया है, जिसमें राज्य के जनजातीय क्षेत्रों मंे न्यूनतम 3 गायध्भैंस की एक इकाई और राज्य के अन्य जगहों पर न्यूनतम 5 गायध्भैंस पशु घटक को परियोजना की लागत और सब्सिडी में शामिल किया गया है।

हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील

Share this story

Around The Web