लक्सर के निजी अस्पताल में प्रसव के तुरंत बाद हुई नवजात, परिजनों ने काटा हंगामा

मुकदमा दर्ज करने से पहले पुलिस ने जांच के लिए डॉक्टरों का पैनल गठित करने का पत्र सीएमओ हरिद्वार को भेजा है।
लक्सर के निजी अस्पताल में प्रसव के तुरंत बाद हुई नवजात, परिजनों ने काटा हंगामा

रुड़की। लक्सर के निजी अस्पताल में प्रसव के तुरंत बाद नवजात की मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया। पुलिस ने नवजात का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

मुकदमा दर्ज करने से पहले पुलिस ने जांच के लिए डॉक्टरों का पैनल गठित करने का पत्र सीएमओ हरिद्वार को भेजा है। बुधवार तड़के करीब साढ़े तीन बजे दल्लावाला की महिला को प्रसव के लिए नगर के नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था।

करीब तीन घंटे बाद महिला ने बेटी को जन्म दिया। लेकिन जन्म के तुरंत बाद शिशु की मौत हो गई। इसके बाद महिला के परिजन और परिचित इकट्ठे होकर अस्पताल पहुंचे और डॉक्टर के खिलाफ हंगामा करने लगे। अस्पताल प्रबंधन ने उन्हें समझाया, पर वे नहीं माने।

हंगामे की सूचना पर लक्सर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जानकारी ली। महिला के परिजनों का आरोप था अस्पताल में बिना डिग्री के डॉक्टर ने प्रसव कराते समय नवजात का सिर गलत तरीके से दबाया था। इसी लापरवाही से नवजात की मौत हुई है।

महिला के पति ने डॉक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी। तहरीर के आधार पर पुलिस ने नवजात का शव पोस्टमार्टम कराने के लिए भेज दिया है। कोतवाल यशपाल सिंह बिष्ट ने बताया कि ऐसे मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट के साथ ही स्वास्थ्य विभाग के विशेषज्ञ डॉक्टरों के पैनल से जांच कराने के बाद ही कार्रवाई करने का प्रावधान है।

विशेषज्ञ डॉक्टरों का पैनल बनाने को लेकर हरिद्वार सीएमओ को पत्र भेजा जा रहा है।

महिला को चौथी बार प्रसव होना था। नवजात बच्चे की आहार नाल जन्म के पहले से ही नॉर्मल नहीं थी। पूर्व में हुई महिला की अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में भी यह दिक्कत नहीं दर्शाई गई थी। इसी से बच्चे की मौत हुई है। -डॉ. वकील अहमद, अस्पताल संचालक।

Share this story

Around The Web