मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना से बदलेगी प्रदेश में शिक्षा की तस्वीर, कक्षा 6 से 12 वीं तक के छात्र-छात्राओं को मिलेगी छात्रवृत्ति

मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन छात्रवृत्ति योजना (जूनियर स्तर) के तहत विकासखण्ड स्तर पर कक्षा 05 से उत्तीर्ण विद्यार्थियों के मध्य प्रतियोगात्मक परीक्षा के आधार पर कुल प्रतिभागी छात्रों में से 10 प्रतिशत श्रेष्ठता वाले छात्र-छात्राओं को यह छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना से बदलेगी प्रदेश में शिक्षा की तस्वीर, कक्षा 6 से 12 वीं तक के छात्र-छात्राओं को मिलेगी छात्रवृत्ति

देहरादून। सरकारी स्कूलों में छात्रों को अध्ययन हेतु प्रोत्साहित करने, उपस्थिति बढ़ाने और ड्राप ऑउट को रोकने के लिहाज से उत्तराखंड में मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन छात्रवृत्ति योजना को राज्य कैबिनेट ने अपनी मंजूरी प्रदान की है। माना जा रहा है कि यह योजना आने वाले दिनों में राज्य की शिक्षा व्यवस्था में सुधार के हिसाब से गेम चेंजर साबित होगी। इस योजना के अंतर्गत कक्षा 6 से 12 वीं तक के छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। 

मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन छात्रवृत्ति योजना (जूनियर स्तर) के तहत विकासखण्ड स्तर पर कक्षा 05 से उत्तीर्ण विद्यार्थियों के मध्य प्रतियोगात्मक परीक्षा के आधार पर कुल प्रतिभागी छात्रों में से 10 प्रतिशत श्रेष्ठता वाले छात्र-छात्राओं को यह छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।

आंकलन है कि राज्य के 95 विकासखण्डों में कक्षा 05 उत्तीर्ण करने वाले छात्र-छात्राओं की कुल संख्या 79532 है, जिनमें से छात्रवृत्ति हेतु अर्ह 10 प्रतिशत छात्र-छात्राओं की संख्या 7953 होगी। इस छात्रवृत्ति को प्रारम्भ में प्रथम वर्ष में कक्षा 06 में अध्ययनरत चयनित विद्यार्थियों को प्रदान किया जायेगा, जिसे क्रमोत्तर वर्षों में निर्धारित पात्रता के अनुसार निरन्तर रूप से कक्षा 08 तक दिया जायेगा।

यह मिलेगा प्रोत्साहन

योजना के तहत कक्षा 06 के पात्र विद्यार्थियों को अधिकतम 1 वर्ष तक 600 रूपये प्रतिमाह, कक्षा 07 के पात्र विद्यार्थियों को अधिकतम 01 वर्ष तक 700 रूपये प्रतिमाह तथा कक्षा 08 के पात्र विद्यार्थियों को अधिकतम 01 वर्ष तक 800 रूपये प्रतिमाह की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।

यह हैं अहर्ताएं

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए छात्र-छात्राओं को राज्य में संचालित राजकीय, राजकीय सहायता प्राप्त शिक्षण संस्थाओं (केन्द्रीय व आवासीय विद्यालयों को छोड़कर) से कक्षा 05 संस्थागत रूप से उत्तीर्ण करना अनिवार्य है तथा वर्तमान में कक्षा 06 में संस्थागत छात्र-छात्रा के रूप में अध्ययनरत होना भी अनिवार्य है। कक्षा 06 एवं 07 में प्रत्येक कक्षा में छात्र-छात्राओं की उपस्थिति 75 प्रतिशत तथा 60 प्रतिशत अंक प्राप्त किया जाना अनिवार्य होगा। 

अनुसूचित जाति एवं जनजाति तथा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्र-छात्राओं को उक्त छात्रवृत्ति का लाभ समुचित रूप से मिल सके, इसके लिए उन्हें प्रतियोगात्मक परीक्षा में प्राप्त अंकों तथा कक्षा 06 से 07 तक प्रत्येक कक्षा में प्राप्त अंकों में 05 प्रतिशत का अधिमान दिया जाएगा। 

एससीआरटी करेगी छात्रवृत्ति परीक्षा का आयोजन

किसी भी विद्यार्थी को राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न छात्रवृत्ति योजनाओं का दोहरा लाभ प्रदान नही किया जायेगा। इस छात्रवृत्ति योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थी के माता-पिता एवं अभिभावक की वार्षिक आय का कोई प्रतिबन्ध नहीं होगा। छात्रवृत्ति परीक्षा का आयोजन एससीईआरटी उत्तराखण्ड देहरादून द्वारा किया जायेगा।

Share this story

Around The Web