बैंक की गलती से डीमैट खाते में आए 11 करोड़ से अधिक पैसे, जानिए पूरा मामला

बैंक (Bank) कब किसे कंगाल बना दें और किसे करोड़पति (millionaire) कहा नहीं जा सकता। ऐसा ही मामला गुजरात (Gujarat) में देखने को मिला जहां एक व्‍यक्ति के डीमैट खाते (Demat account) में अचानक 11 करोड़ से अधिक पैसे आ गए। 
बैंक की गलती से डीमैट खाते में आए 11 करोड़ से अधिक पैसे, जानिए पूरा मामला

अहमदाबाद। बैंक (Bank) कब किसे कंगाल बना दें और किसे करोड़पति (millionaire) कहा नहीं जा सकता। ऐसा ही मामला गुजरात (Gujarat) में देखने को मिला जहां एक व्‍यक्ति के डीमैट खाते (Demat account) में अचानक 11 करोड़ से अधिक पैसे आ गए। व्‍यक्ति ने सबसे पहले उसमें से थोड़ी रकम शेयर बाजार में निवेश कर दिया।

मामला इस प्रकार है कि बैंकिंग सिस्टम (banking system) में तकनीकी खामी की वजह से अक्सर अनजान आदमी के खाते में गलती से मोटी रकम जमा होने के मामले सामने आते रहते हैं, किन्‍तु अब गुजरात के अहमदाबाद में एक अलग ही मामला सामने आया है।

यहां बैंक की गड़बड़ी की वजह से रमेश सागर नामक शख्स के डीमैट खाते में 11,677 करोड़ रुपये जमा हो गए।

रमेश सागर पिछले 5-6 साल से शेयर बाजार में निवेश कर रहे हैं और एक साल पहले उन्होंने कोटक सिक्योरिटीज के साथ अपना डीमैट खाता खोला था। उन्होंने बताया कि 27 जुलाई, 2022 को अचानक मेरे खाते में 116,77,24,43,277 रुपये दिखने लगे।

सागर ने फटाफट इनमें से 2 करोड़ रुपये का शेयर बाजार में लगा दिए और उसपर 5 लाख रुपये मुनाफा भी कमा लिए, लेकिन उसी रात 8 बजे बैंक ने राशि वापस ले ली। इसकी भनक बैंक को लगते ही तुरंत अपनी गलती सुधारते हुए इस बड़ी रकम को वापस ले ली, लेकिन इस बीच उस रकम से सागर कुछ ही घंटों में 5 लाख रुपये कमा चुके थे।

रमेश सागर की मानें तो सिर्फ अन्य डीमैट खाताधारक भी उस दिन जैकपॉट पाने के लिए भाग्यशाली थे। एक रिपोर्ट के अनुसार इस मुद्दे पर कोटक सिक्योरिटीज से बात करने की कोशिश की गई तो विशेष टिप्पणी से इनकार कर दिया, क्योंकि निवेशकों के पैन कार्ड या उनकी डीमैट खाता संख्या को वेरीफाई नहीं किया जा सकता है और न ही बैंक इस मुद्दे पर किसी तरह की टिप्पणी कर सकता है।

Share this story

Around The Web