बालाघाट : धनकुबेर निकला प्रभारी प्रबंधक, लोकायुक्त की छापेमारी में हुआ करोड़ो की संपत्ति का खुलासा

बालाघाट : धनकुबेर निकला प्रभारी प्रबंधक, लोकायुक्त की छापेमारी में हुआ करोड़ो की संपत्ति का खुलासा


बालाघाट, 10 मई (हि.स.)। मध्य प्रदेश लोकायुक्त पुलिस की भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्यवाही सतत रुप से जारी है। आए दिन लोकायुक्त पुलिस काले धनकुबेरों का पर्दाफाश कर रही है। इसी क्रम में मंगलवार को जबलपुर लोकायुक्त टीम ने बालाघाट में आदिम जाति सेवा सहकारी समिति बिरसा के प्रभारी प्रबंधक के यहां छापामार कार्यवाही को अंजाम दिया। प्राथमिक जांच में ही लोकायुक्त टीम को एक करोड़ 41 लाख रूपये की संपत्ति मिली है। फिलहाल कार्यवाही जारी है।

जानकारी के अनुसार ग्राम करौंदा बहेरा निवासी संतोष भगत पुत्र देवीलाल भगत आदिम जाति सेवा सहकारी समिति बिरसा में एक साल से प्रभारी प्रबंधक के पद पर पदस्थ है। इसके पूर्व वह राशन दुकान में सेल्समैन के पद पर पदस्थ रहा है, जिसके पास आय से अधिक संपत्ति पाए जाने की शिकायत जबलपुर लोकायुक्त को मिली थी। जांच में शिकायत सही पाये जाने के बाद मंगलवार सुबह पांच बजे लोकायुक्त टीम ने जबलपुर डीएसपी जेपी वर्मा के नेतृत्व में संतोष भगत के ठिकानों पर छापा मारा। जबलपुर लोकायुक्त को कार्रवाई में संतोष भगत के पास एक करोड़ 41 लाख रूपये की संपत्ति मिली है। जिसमें करौंदा में एक मकान, बिरसा में दो मकान और बालाघाट में एक मकान शामिल है। साथ ही बिरसा में एक होंडा मोटरसाइकिल का शोरूम भी है। इसके अलावा 6 लाख के घरेलू सामान मिले है।

जबलपुर लोकायुक्त डीएसपी जेपी वर्मा ने बताया कि बिरसा तहसील के ग्राम करौंदा बहेरा में आदिम जाति सेवा सहकारी प्रभारी प्रबंधक संतोष भगत के पास में आय से अधिक संपत्ति पाई गई है। अभी तक की जांच में एक करोड़ 42 लाख की संपत्ति उजागर हुई है और अधिक संपत्ति होने की संभावना है। जिसकी जांच की जा रही है। संतोष भगत के खिलाफ अपराध क्रमांक 0/22 धारा 13(1)बी, 13(2) भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत आरोपित संतोष पिता देवीलाल भगत सहायक समिति प्रबंधक समिति करौंदा बहेरा तहसील बिरसा के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया है।

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा पाण्डेय

Share this story

Around The Web