कांगड़ा जिला में रफतार पकड़ रहा 12 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों का टीकाकरण अभियान

कांगड़ा जिला में रफतार पकड़ रहा 12 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों का टीकाकरण अभियान


जिला के सभी स्कूलों के मुखियों को टीकाकरण के लिये बच्चों को प्रेरित करने के दिए हैं निर्देश

धर्मशाला, 10 मई (हि.स.)। जिला कांगड़ा में 12 से 14 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को कोरोना से सुरक्षा प्रदान करने के लिए टीकाकरण अभियान तेज किया जा रहा है। जिले के स्कूलों में दाखिले की प्रक्रिया के साथ ही कोरोना वैक्सीन लगाने की रफ्तार तेज हो गई है। इस वर्ग के बच्चों का कोविड टीकाकरण अभियान जिला कांगड़ा में पूरे जोरों से चलाया जा रहा है। यह जानकारी देते हुए जिला कांगड़ा उच्चतर शिक्षा उपनिदेशक रेखा कपूर ने बताया कि कोरोना टीका लगने के बाद 12 से 14 साल के बच्चों में भी इस महामारी से लड़ने के क्षमता विकसित हो सकेगी। जिला भर के उच्च एवं वरिष्ठ माध्यमिक पाठशालाओं के सभी प्रधानाचार्यों तथा मुख्याध्यापकों को निर्देश दिये गये हैं कि वे अपनी पाठशालाओं में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं के टीकाकरण के लिये बच्चों को प्रेरित करें। जहां आवश्यकता हो वहां स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ मिलकर विशेष टीकाकरण कैम्प लगवाने के लिये अपने सम्बन्धित ब्लाक चिकित्सा अधिकारी से सम्पर्क करें।

उन्होंने बताया कि जिले के विभिन्न विद्यालयों से इस संदर्भ में सूचना मंगवाई जा रही है तथा प्राप्त सूचना के अनुसार अधिकतर पात्र बच्चों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगाई जा चुकी है। वैक्सीन की दूसरी डोज के पात्र छात्र-छात्राओं को भी वैक्सीन लगवाने का कार्य साथ साथ चल रहा है। सभी सरकारी तथा निजी पाठशालाओं में बच्चों को निःशुल्क वैक्सीन लगाई जा रही है तथा इसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा समय-समय पर शेड्यूल जारी किया जा रहा है। शेड्यूल की जानकारी जिला प्रशासन तथा स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से रोजाना दी जा रही है।

उन्होंने सभी अभिभावकों से भी आाग्रह किया है कि वे उपरोक्त आयु वर्ग के अपने बच्चों को कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर वैक्सीनेशन करवाना सुनिश्चित करें।

हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/उज्जवल

Share this story

Around The Web