बेगूसराय में मुखिया को गोलियों से भूनने वाला अपराधी हथियार सहित गिरफ्तार

बेगूसराय में मुखिया को गोलियों से भूनने वाला अपराधी हथियार सहित गिरफ्तार


बेगूसराय, 10 मई (हि.स.)।बेगूसराय पुलिस ने साफापुर पंचायत के मुखिया अमित कुमार की हत्या करने के नियत से गोलियों से भूनने वाले दो अपराधी सहित तीन युवकों को हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया है। मंगलवार को अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में यह जानकारी एसपी योगेन्द्र कुमार ने दी।

एसपी ने बताया कि 27 अप्रैल की देर शाम मोटरसाइकिल सवार तीन अपराधियों ने सफापुर पंचायत के मुखिया अमित कुमार पासवान को घर के बगल में ही मोमो दुकान के पास गोली मार दी थी, घायल मुखिया का इलाज पटना में चल रहा है। घटना को गंभीरता से लेते हुए सदर डीएसपी अमित कुमार के नेतृत्व में गठित टीम में पुलिस अधिकारी मदन कुमार सिंह, हिमांशु कुमार सिंह, माधव कुमार, विवेक भारती, त्रिभुवन कुमार ठाकुर, सशस्त्र चीता बल एवं जिला आसूचना इकाई को शामिल किया गया।

टीम ने लगातार सूचना संकलन, साक्ष्य, तकनीकी एवं वैज्ञानिक अनुसंधान के आधार पर मामले का खुलासा करते हुए घटना के मुख्य अभियुक्त हेमरपुर सोनापुर निवासी कन्हैया कुमार सिंह एवं घटना में शामिल सोनापुर भराठ निवासी प्रिंस कुमार उर्फ छोटू को गिरफ्तार किया। इसके साथ ही कन्हैया के दोस्त गोरगामा निवासी अखिलेश कुमार उर्फ आनंद को भी गिरफ्तार किया गया है। कन्हैया एवं प्रिंस के पास से एक पिस्टल, एक देसी पिस्तौल, तीन गोली, तीन मोबाइल एवं एक मोटरसाइकिल बरामद किया गया है।

एसपी ने बताया कि चैती दुर्गा पूजा के दौरान साफापुर में आर्केस्ट्रा का आयोजन किया गया था। मुखिया अमित ने इसका काफी विरोध किया तथा आयोजक पर हुई कार्रवाई से आक्रोशित होकर कन्हैया ने अपने साथियों के साथ 27 अप्रैल को सुबह से ही मुखिया के घर के आसपास की रेकी किया तथा देर शाम लाइन कटने के बाद अंधेरा होने पर मुखिया की हत्या करने के लिए गोलीबारी किया। गोलीबारी की घटना में अखिलेश शामिल नहीं था, लेकिन वह कन्हैया का साथी एवं दूसरी घटना में अभियुक्त है।

कन्हैया पर पहले भी आर्म्स एक्ट एवं लूट के कई मामले दर्ज हैं तथा चैती दुर्गा पूजा से कुछ दिन पहले ही आठ माह जेल में रहकर बेल पर आया था, जिसके बाद आर्केस्ट्रा का आयोजन करने पर कार्रवाई होने से आक्रोशित हो इस घटना को अंजाम दिया। एसपी ने बताया कि जल्द ही अनुसंधान पूरा कर चार्जशीट दाखिल करते हुए कोर्ट में मामले का स्पीडी ट्रायल कराया जाएगा तथा घटना में शामिल दोनों बदमाश फांसी की सजा दिलाने की कोशिश होगी। जनप्रतिनिधियों के साथ गलत करने वाले किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा, त्वरित कठोर कार्रवाई की जाएगी, इसमें जनप्रतिनिधि एवं आम जनों का भी सहयोग जरूरी है।

हिन्दुस्थान समाचार/सुरेन्द्र

Share this story

Around The Web