बिजली बिल न देने वाले सावधान, इस एक्शन के लिए तैयार रहें डिफालटर

सुरिन्द्र पाल सोंधी ने बताया कि बीते रोज 289 के करीब उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे गए थे जिनमें से आज अधिकत्तर उपभोक्ताओं द्वारा राशि जमा करवाई गई जिसके चलते विभाग द्वारा काटे गए कनेक्शनों को पुन: जोड़ दिया गया।
 बिजली बिल न देने वाले सावधान, डिफालटर तैयार रहें इस एक्शन के लिए
न्यूज डेस्क, दून हॉराइज़न, जालंधर (पंजाब)

पावरकॉम द्वारा डिफाल्टरों के खिलाफ चलाए गए अभियान के अन्तर्गत आज 215 डिफाल्टरों से 1.47 करोड़ रुपए वसूल किए गए। विभाग द्वारा शुरू की गई इस मुहिम से 2 दिनों में 4.35 करोड़ की रिकवरी की गई है। पहले दिन 289 उपभोक्ताओं से 2.87 करोड़ से ज्यादा रुपए वसूल किए गए थे।

विभाग द्वारा आज पुराने मीटर बदलकर 185 स्मार्ट मीटर लगाए गए। पावरकॉम नोर्थ जोन के हैड चीफ इंजीनियर रमेश लाल सारंगल, सुपरिंटेंडेंट इंजीनियर व सर्कल हैड सुरिन्द्र पाल सोंधी की अध्यक्षता में चल रही इस मुहिम के तहत डिफाल्टरों पर बड़ा एक्शन लिया जा रहा है ताकि बकाया राशि की वसूली बढ़ाई जा सके।

सुरिन्द्र पाल सोंधी ने बताया कि बीते रोज 289 के करीब उपभोक्ताओं के कनेक्शन काटे गए थे जिनमें से आज अधिकत्तर उपभोक्ताओं द्वारा राशि जमा करवाई गई जिसके चलते विभाग द्वारा काटे गए कनेक्शनों को पुन: जोड़ दिया गया।

इसी कड़ी में वैस्ट डिवीजन के 88 कनेक्शनों से 22 लाख, ईस्ट डिवीजन के 65 कनेक्शनों से 65.10 लाख जबकि माडल टाऊन डिवीजन में 62 उपभोक्ताओं से 60.50 लाख रुपए की वसूली हुई है।

उन्होंने बताया कि कैंट व फगवाड़ा डिवीजन के अन्तर्गत लिस्टें फाइनल करवाई जा रही है जिससे कल लिस्टें अपडेट होगी व उक्त डिवीजनों की रिकवरी के बारे में सही आकड़ों का पता चलेगा।

वहीं, पुराने मीटर बदलकर स्मार्ट मीटर लगाने प्रति चलाए जा रहे अभियान के बारे में अधिकारियों ने बताया कि प्रत्येक डिवीजन को रोजाना कम से कम 50 मीटर बदलने के आदेश दिए गए हैं।

विभाग द्वारा नए स्मार्ट मीटर लगाए जा रहे है। अपडेट किए जा रहे मीटरों से प्रत्येक इलाके में इस्तेमाल होने वाले लोड इत्यादि के बारे में पूरी जानकारी विभाग को मिल सकेगी। इससे लो-वोल्टेज व बिजली खराबी जैसी दिक्कतों से निजात मिलेगी।

बिल जमा करवाने वाले संबंधित दफ्तर में करें सूचित

अधिकारियों ने कहा कि जिन उपभोक्ताओं ने लंबे समय से बिलों का भुगतान नहीं किया है, उनपर कार्रवाई के आदेश जारी किए जा चुके हैं। इसके तहत फील्ड स्टॉफ द्वारा घरों के दूर लगे मीटर बक्सों से कनेक्शन काटे जा रहे है।

अधिकारियों ने कहा कि जो लोग अपने बिलों की अदायगी कर रहे हैं, वह इस संबंध में अपने इलाके के बिजली घर को सूचित करें ताकि वह कार्रवाई से बच सकें।

Share this story