माफिया अतीक अहमद और अशरफ हत्याकांड पर पूर्व सीएम ने गीता का हवाला देते हुए दिया बयान, कहा - जो हुआ अच्छा हुआ

माफिया अतीक अहमद और अशरफ हत्याकांड मामले पर पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बड़ा बयान दिया है. उनका कहना है कि भगवत गीता में कहा गया है, जो भी होता है, वो अच्छे के लिए होता है. वहीं, त्रिवेंद्र रावत ने चीड़ पेड़ के दोहन पर भी अपना बयान दिया है.
माफिया अतीक अहमद और अशरफ हत्याकांड पर पूर्व सीएम ने गीता का हवाला देते हुए दिया बयान, कहा - जो हुआ अच्छा हुआ 

श्रीनगरः गौर हो कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में पुलिस कस्टडी में माफिया अतीक अहमद और अशरफ की तीन युवकों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. अब इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का भी बयान सामने आया है.

त्रिवेंद्र रावत का कहना है कि जो हुआ, वो सब अच्छे के लिए हुआ. जो लोग आशावादी हैं, वे लोग ये सोचकर चलते हैं कि जो हुआ ठीक हुआ. ऐसा भगवत गीता में कहा गया है.

वहीं, त्रिवेंद्र सिंह रावत ने चीड़ के पेड़ को अभिशाप की जगह उसे वरदान बताया है. उन्होंने कहा कि चीड़ के पेड़ का दोहन सही से किया जाना चाहिए. चीड़ के पेड़ों से प्रदेश में 75 हजार लोगों को रोजगार से जोड़ा जा सकता है.

बता दें कि इन दिनों फॉरेस्ट फायर से प्रदेश के जंगल धधक रहे हैं. जिसमें चीड़ के पेड़ वनाग्नि का सबसे बड़ा कारण भी बन रहे हैं. जिससे वन संपदा भी खाक हो रही है. हालांकि, इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत चीड़ के पेड़ के दोहन को रोजगार का जरिया बता रहे हैं.

दरअसल, त्रिवेंद्र सिंह रावत इनदिनों गढ़वाल भ्रमण पर है. आज राज्यसभा सांसद कल्पना सैनी भी पौड़ी पहुंचीं, जहां बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया. वहीं, त्रिवेंद्र सिंह रावत पौड़ी के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर निकाय और लोकसभा चुनावों के संबंध में कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोल रहे हैं.

Share this story

Around The Web