मेरठ में यातायात की तस्वीर बदल देगा आईटीएमएस

मेरठ में यातायात की तस्वीर बदल देगा आईटीएमएस


मेरठ, 10 मई (हि.स.)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को मेरठ में इंटीग्रेटिड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आईटीएमएस) को देखा। वह इस प्रोजेक्ट से खासे प्रसन्न हुए और इसे गृह मंत्रालय के सर्विलांस सिस्टम से जोड़ने की बात कही। आईटीएमएस से मेरठ की यातायात व्यवस्था पूरी तरह से बदल जाएगी।

अभी तक मेरठ शहर को यातायात की बदलहाल स्थिति के लिए जाना जाता था। अब मेरठ के यातायात सिस्टम को बदलने की शुरूआत हो गई है। मेरठ शहर में 38 करोड़ रुपए की लागत से शहर के आठ चौराहों को आईटीएमएस से लैस किया गया है। इन चौराहों पर हाईविजन वाले कैमरे लगाए गए हैं और यातयात पूरी तरह से ट्रैफिक लाइटों द्वारा संचालित होगा। मेरठ के बच्चा पार्क, आयुक्त आवास, जेल चुंगी, तेजगढ़ी, गांधी आश्रम, हापुड़ अड्डा, आयुक्त कार्यालय और एल ब्लाक शास्त्रीनगर तिराहा, डिग्गी तिराहे आदि पर आईटीएमएस की प्रणाली लगाई गई है। इसका नियंत्रण कक्ष नगर निगम में बनाया गया है। कंट्रोम रूम का सर्वर लखनऊ स्थित डाटा सेंटर से कनेक्ट है। नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहनों के ई-चालान काटे जाएंगे और ई-चालान वाहन स्वामी के घर पर भेजा जाएगा। इससे शहर की यातायात व्यवस्था दुरुस्त हो जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इसे सराहा और पूरे शहर में इसे लागू करने को कहा।

हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप

Share this story

Around The Web